‘प्यार में कुत्तों से भी घ’टिया मौ’त देते हैं’, REET की तैयारी कर रही छात्रा ने मैसेज लिख खुद को ल’गाई आ’ग

राजस्थान : ‘मेरी बहनों किसी से प्यार मत करना। कोई किसी से प्यार नहीं करता, मतलबी होते हैं। लोग प्यार में फंसाकर कुत्तों से भी घटिया मौत देते हैं’…ऐसी ही कई सारी बातें अपने व्हाट्सऐप स्टेटस में शेयर करने के बाद एक छात्रा ने खुद को आग लगा ली। बताया जा रहा है कि यह छात्रा REET की तैयारी कर रही थी। छात्रा की मौत के बाद अब उसके परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।

'प्यार में कुत्तों से भी घटिया मौत देते हैं', REET की तैयारी कर रही छात्रा ने मैसेज लिख खुद को लगाई आग; पिता बोले- हत्या हुई

मृतक छात्रा का नाम टीना हरात है। 27 साल की टीना डूंगरपूर के एक गांव की रहने वाली थी। बुधवार को आनंदपुरी थाने के कटारो का तालाब गांव में टीना ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगाई है। आग लगाने के बाद शोर सुनकर वहां कई लोग पहुंचे थे लेकिन टीना को बचाया नहीं जा सका। लोगों ने पुलिस को भी इसकी जानकारी दी थी। पुलिसिया जांच के बाद टीना की मौत को लेकर कई अहम बातें सामने आई हैं।

लिव इन रिलेशन में थी टीना

बताया जा रहा है कि टीना चांदरवाड़ा में कार्यरत पटवारी मनोज खराड़ी के साथ पिछले 3 सालों से लिव इन-रिलेशनशिप में थी। मनोज और टीना एक ही गांव के रहने वाले थे, लिहाजा वो एक-दूसरे को पहले से ही जानते थे। पिछले एक डेढ़ महीने से टीना और मनोज अलग रह रहे थे। बुधवार की रात टीना को पता चला कि मनोज कटारो का तालाब गांव में है तो वो वहां पहुंच गई।

कहा जा रहा है कि टीना ने यहां आने के बाद मनोज को कई बार फोन किया और मैसेज भी किए, लेकिन कोई रिप्लाई नहीं आया। इसके बाद टीना ने पेट्रोल छिड़कर खुद को आग लगा ली।

लिव इन पार्टनर पर संगीन आरोप

मरने से पहले टीना ने अपने मोबाइल पर 10 व्हाट्सऐप स्टेटस लगाए थे। इसमें उसने लिखा था, मनोज खराड़ी ने मुझे अपनी पत्नी बनाकर मेरी जिंदगी के साथ खिलवाड़ किया। मुझे धोखा दिया। आपके लिए मैंने क्या नहीं किया था, किस चीज की सजा दी है।’  एक अन्य स्टेटस में उसने लिखा था, ‘मु़झे किसी लायक रखा होता तो मैं सुसाइड के लिए मजबूर नहीं होती, मेरे हाथ-पैर तोड़ दिए। आपने मेरे मां-बाप को रुलाया, शादी तुड़वाई, इतना कुछ नहीं करते तो मैं जी पाती।’  टीना ने यह भी लिखा था, ‘मनोज, मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी। धोखा दिया, मारपीट की। जीने लायक नहीं छोड़ा। मेरी मौत के बाद तकलीफ हो तो आ जाना मेरे पास। लागों को तकलीफ मत देना।’

क्या कहना है पुलिस का…

जहां टीना जली थी वहां से पुलिस ने दो मोबाइल और जली हुई बोतल बरामद किये हैं। मोबाइल की मदद से ही पुलिस ने टीना की पहचान की थी और उसके परिजनों को जानकारी दी थी। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए खुद एसपी राजेश मीणा भी मौके पर पहुंचे थे। थाना प्रभारी दिलीपसिंह चारण ने बताया कि प्राथमिक जांच में पता चला है कि टीना आरोपी मनोज को शराब छोड़ने की बात कहती थी, लेकिन वारदात की रात को क्या हुआ। अभी ये जांच का विषय है।

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

इधर इस पूरे मामले में टीना के परिजनों ने अपनी बेटी की हत्या किये जाने की आशंका जताई है। बीएड कर चुकी टीना के पिता शिवलाल का आरोप है कि टीना के पास मनोज का मोबाइल था। आत्मदाह के बावजूद उसके बाल नहीं जले हैं। इससे सुसाइड की थ्योरी पर सवाल उठता है।