मोबाइल से बने दोस्तों ने ही मिलकर किया ना’बालिग से गैं’गरेप, तीनों आ’रोपी गि’रफ्तार

बांका: बांका में नाबालिक लड़की का गैंगरेप हुआ है। यह दरिंदगी किसी और ने नहीं बल्कि उसके तीन दोस्तों ने मिलकर की। 6 महीना पहले एक मिस्ड कॉल के बाद हुई दोस्ती का यह सिला मिलेगा, लड़की ने ऐसा कभी नहीं सोचा था। उसके दोस्त ने उसे झांसा देकर बुलाया और अपने दो सहयोगियों के साथ उसका गैंग रेप किया। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस से न्याय की गुहार लगाई। पुलिस ने छापेमारी कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। घटना धोरैया थाना क्षेत्र की है। पीड़िता झारखंड के गोड्डा जिले की बताई जाती है।नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म क दिया अंजाम,जूता-चप्पल बनाने वाली एक  फैक्ट्री में हुई वारदातमोबाइल से शुरू हुई थी दोस्ती 
घटना के संबंध में पीड़िता का कहना है कि छह महीने पहले मिस्ड कॉल से उसका सम्पर्क नीतीश कुमार से हुआ था । दोनों में बातचीत होने लगी । फिर नीतीश ने पीड़िता की बात अपने ममेरे भाई सदाशिव से कराने लगा। सदाशिव ने लडकी को धोरैया बुलाया । लड़की सदाशिव के झांसे में आ गई औरअपनी सहेली से मिलने के बहाने से अपने घर से निकलकर सदाशिव से  मिलने धोरैया पहुंच गई। लेकिन उसके आने से पहले ही नीतीश और सदाशिव ने योजना बना लिया था । तीनों उस नाबालिग लड़की को अपने घर बड़ेरी गांव जाने के क्रम में बहियार के रास्ते एक बोरिंग घर ले गये और उनके साथ गैंग रेप किया और वहां से फरार हो गए। घटना के बाद तीनों आरोपी पीड़िता को वहीं छोड़ कर फरार हो गए। पीड़िता ने बताया कि वह रातभर उसी घर में पड़ी रही । अगली सुबह वह थाना पहुंची और तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

तीनों को पुलिस ने किया गिरफ्तार 
घटना के संबंध में थानाध्यक्ष महेश्वर प्रसाद राय  का कहना है कि पीड़िता ने बड़ेरी गांव निवासी नीतीश कुमार, उसके ममेरे भाई सदाशिव मंडल और विकास कुमार को आरोपी बनाते हुए मामला दर्ज कराया है। मामला दर्ज होते ही पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल  पुलिस पीड़िता का मेडिकल जांच कराते हुए अग्रतर कार्रवाई कर रही है।