BSEB STET : बीएड करने की समय सीमा तय, देखें…

वर्ष 2011 में हुई माध्यमिक-उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) उत्तीर्ण अप्रशिक्षित अभ्यर्थियों के लिए शिक्षा विभाग ने प्रशिक्षण का कटऑफ जारी कर दिया है। विभिन्न जिलों से आईं आपत्तियों तथा पृच्छाओं को लेकर शिक्षा विभाग द्वारा गठित कमेटी की अनुशंसा पर सोमवार को विभाग ने तमाम चीजें साफ कर दीं।

एसटीईटी-2011 में यह प्रावधान किया गया था कि जो अप्रशिक्षित एसटीईटी में उत्तीर्ण होंगे उन्हें पांच वर्ष की अवधि में बीएड (एक वर्षीय) उत्तीर्ण कर लेना होगा। हालांकि इसकी गणना कब से होगी तब यह तय नहीं था। शिक्षा विभाग के उप सचिव अरशद फिरोज ने सोमवार को जारी आदेश में कहा है कि एसटीईटी-2011 में सम्मिलित एवं 2012 में उत्तीर्ण अप्रशिक्षित अभ्यर्थी, जो बीएड के लिए सत्र 2015-17 तक नामांकित हुए हों और 2018 तक जिनका रिजल्ट हो गया हो, वे छठे चरण के नियोजन के पात्र माने जाएंगे।

इसी तरह जिनकी पुर्नपरीक्षा 2013 में हुई थी एवं 2013 में परीक्षाफल आया था, उससे संबंधित अप्रशिक्षित उत्तीर्ण अभ्यर्थी जो बीएड के लिए 2016-18 तक नामांकित हुए हों और पहली अगस्त 2019 तक जिनका परीक्षाफल प्रकाशित हो गया हो, वे छठे चरण के नियोजन के लिए पात्र माने जाएंगे।