मुजफ्फरपुर व आस-पास के जिलों में 27 से 29 जून तक भा’री वर्षापा’त की चे’तावनी, सत’र्क-सा’वधान रहें

जिलाधिकारी ने जिलेवासियों से की अपील, कहा-सत’र्क और साव’धान रहें सरकार द्वारा दिए जा रहे हैं निर्दे’शों का पा’लन करें. जिला आ’पदा प्रबंधन प्राधिकरण के तत्वा’धान में क्राइ’सिस मैनेजमेंट ग्रुप की हुई बैठक। संभावित आप’दा से निप’टने हेतु की जा रही तैया’रियों की गई स’मीक्षा…

MUZAFFARPUR (ARUN KUMAR) : मौसम विज्ञान केन्द्र, पटना के द्वारा मौसम की वर्तमान गतिविधि एवं संख्यात्मक मौसम माॅडल के आकलन के अनुसार राज्य के अधिसंख्य भागों में अगले 72 घंटों के दौरान भारी से अत्यंत भारी वर्षापा’त एवं व’ज्रपात की संभा’वना व्यक्त की गयी है। इसके कारण जा’न-माल के हा’नि होने की, निचले स्थान में जलज’माव, यातायात बा’धित, बिजली सेवा बा’धित, नदी के जलस्त’र में बढ़ो’तरी होने की संभावना है।
इसका मुख्य प्र’भाव नेपाल के तराई से सटे क्षेत्र एवं उत्तर और मध्य बिहार के निम्न जिलों यथा-पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सिवान, शिवहर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सारण, मधुबनी, सुपौल, अररिया, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, किशनगंज एवं कटिहार में रहने की संभावना है। जिलाधिकारी, डॉ चंद्रशेखर सिंह द्वारा मुजफ्फरपुर जिले के आम नागरिकों को उचित साव’धानी एवं सु’रक्षा उपा’य बरतने की सला’ह दी गयी है। साथ ही जिला स्तरीय सभी पदाधिकारियों एवं सभी अंचल अधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, थानाध्यक्षों को अल’र्ट पर रहने का निदे’श दिया गया है, ताकि किसी भी आ’पात स्थिति से नि’पटा जा सकें।
आज समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में क्रा’इसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आहूत की गई। बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक, उप विकास आयुक्त, नगर आयुक्त, सहायक समाहर्ता, अपर समाहर्ता, अपर समाहर्ता-आपदा सहित जिले के सभी वरीय पदाधिकारी और विभिन्न तकनीकी विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में भारी वर्षापा’त की संभा’वना को देखते हुए जिला प्रशासन एवं विभिन्न विभागों द्वारा की जा रही तैयारियों की विस्तृत समीक्षा की गई एवं आपात स्थिति से निपटने हेतु महत्त्वपूर्ण दिशा- निर्दे’श दिए गए। निर्देशन दिया गया कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, थानाध्यक्ष एवं प्रखंडों के अन्य पदाधिकारी भारी वर्षापा’त एवं संभावित बा’ढ़ के दृष्टिकोण से निष्क्रमण के लिए पूर्व से ही तैयार रहते हुए पर्याप्त संख्या में ना’वों की प्रति’नियुक्ति कर लें।
कार्यपालक अभियंता गंडक, बूढ़ी गंडक, बागमती, जल निस्सरण को भी अल’र्ट किया गया है।साथ ही आप’दा की स्थिति में आम- जनों को रा’हत पहुंचाने के मद्देनजर जिले के एनडी’आरएफ और एसडी’आरएफ टीमों को भी निर्दे’शित किया जा चुका है कि वे 24X7 तै’यार रहें। संभावित आप’दा को देखते हुए सिविल सर्जन मुजफ्फरपुर को निर्देशित किया गया है कि आप’दा की स्थिति से निप’टने के लिए अपने स्तर से डॉ’क्टरों और एंबु’लेंस की प्रतिनियुक्ति, द’वाओं की उपल’ब्धता मोबाइल मेडि’कल टीम/ पारा मेडि’कल स्टाफ इत्यादि की प्रतिनियुक्ति करना सुनिश्चित करें। मुजफ्फरपुर नगर निगम, नगर पंचायत कांटी, मोतीपुर एवं साहेबगंज को निर्दे’शित किया गया है कि वे आप’दा की स्थिति को देखते हुए इम’रजेंसी टीम का गठन कर लें ताकि जलज’माव की सम’स्या को तत्काल दू’र किया जा सके।

प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी भी अपने- अपने प्रखंडों में जलज’माव से निप’टने के लिए प्रभावी व्यव’स्था करना सुनिश्चित करेंगे। दोनों अनुमंडल पदाधिकारी उक्त कार्य का सतत अनुश्र’वण करेंगे। नगर आयुक्त को निर्दे’शित किया गया है कि शहर के विभिन्न क्षेत्रों में निर्माण कार्य से संबंधित किए जा रहे हो कार्यों के क्रम में खो’दे गए ग’ड्ढों का मार्क  करते हुए चारों तरफ सुर’क्षा घे’रा का निर्माण कराना सुनि’श्चित करेंगे। संभावित आप’दा को देखते हुए अ’ग्निशमन विभाग, वि’द्युत विभाग, याता’यात उपाधीक्षक, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला परिवहन पदाधिकारी को भी अल’र्ट मोड में रहने का निर्देश दिया गया है।